किसी भी स्त्री को ये काम करते देखना होता है सबसे बड़ा पाप, स्वयं महाकाल देते है सजा

दोस्तों जैसा कि आप सभी जानते ही है कि नारी को देवी का दर्जा दिया गया है प्राचीन काल से स्त्रियों का सम्मान किया जात है लेकिन इसके बावजूद कई ऐसी जगहे भी है जहाँ पर नारी का सम्मान नही किया जाता है यहाँ औरतो पर हाथ भी उठाया जाता है लेकिन ऐसे घरो में कभी भी माँ लक्ष्मी का वास नही होता है शास्त्रों में भी कहा गया है कि जिस घर में स्त्री दुखी होती है उस घर में देवी देवता कभी वास नही करते है और जिस घर में नारी का सम्मान किया जाता है उस घर में हमेशा खुशियाँ बनी रहती है इसलिए कभी भी स्त्रियों का अपमान नही करना चाहिए.
..
इसके अलावा शास्त्रों में एक और बात का वर्णन किया गया है जिसके मुताबिक अगर आप स्त्री को स्नान करते हुए देख लेते है तो आप पाप के भागीदार बन जाते है किसी भी स्त्री को चोरी छिपे नहाते देखना सबसे बड़ा पाप माना गया है इस पाप की सजा इतनी भयानक होती है कि मौत भी आपको उसके सामने छोटी पड़ जाएगी.
यदि आप गलती से किसी स्त्री को नहाते हुए देख लेते है तो शायद आप बच भी जाए लेकिन अगर आप जान बुझकर किसी स्त्री को नहाते हुए देखते है तो फिर आपको इस पाप से कोई नही बचा सकता है. स्त्रियों का सम्मान आपको पूण्य की प्राप्ति करवाता है लेकिनं इस बात को बहुत कम लोग जानते है तभी तो आए दिन लडकियों के साथ बलात्कार जैसी घटनाएं घटती है.
..
नारी को देवी का दर्जा दिया गया है प्राचीन काल से स्त्रियों को लेकर तरह तरह की बाते सुनने में आती है आपने देखा होगा जब जब नारी का अपमान हुआ है इस धरती पर विनाश ही हुआ है जैसे रावण ने माता सीता का हरण किया था तो उसकी सजा उसने अपने जान देकर गवई थी इतिहास इस बात का गवाह है कि जब जब स्त्री का अपमान हुआ है तब तब किसी न किसी का सर्वनाश जरुर हुआ है.