पढ़ें आज के मजेदार चुटकुले-एक बूढा प्रत्येक वर्ष अपनी ही पत्नी से...

पढ़ें आज के मजेदार चुटकुले-एक बूढा प्रत्येक वर्ष अपनी ही पत्नी से शादी करता था,

513
0

इस संसार में हर एक मनुष्‍य के जीवन में अनेकों समस्‍यायें आती रहती है जिनका वह इंसान प्रतिपल सामना करने के लिये तैयार रहता है, पर अधिकांश लोग ऐसे भी होते है जिनका जीवन हमेशा ही व्‍यस्‍त रहा है, ऐसे लोगों को इतना भी समय नही मिल पाता कि वह अपने परिवार के साथ कुछ समय बिता सकें जिस वजह से कभी कभी इन लोगों को डिप्रेशन जैसी समस्‍या होने लगती है, जो शरीर के लिये काफी घातक साबित हो सकती है। इस लिये इसके निवारण हेतु कुछ समय परिवार के साथ बिताना, साथ ही खुश रहना भी बहुत जरूरी है, इसीलिये आज हम कुछ ऐसे जोक्‍स लेकर आये है जिन्‍हें पढ़कर आप कुछ देर के लिये ही सही पर सारी समस्‍याये भूलकर हंस हंस कर लोट पोट हो जायेगें। जिन जोक्‍स की आज बात की जा रही है वो कुछ इस प्रकार से है….
पहला : एक बूढा 70 वर्ष बीतने के बाद प्रत्येक वर्ष अपनी ही पत्नी से शादी करता था, बिना किसी रोक टोक के उसका सारा कार्यक्रम संपन्न हो जाता था, और फिर अगले वर्ष सब कुछ दोबारा से ऐसे ही दोहराया जाता था, पूरे गांव में यह बात चर्चा बनकर रह गई, बहुत समय बाद जब एक व्यक्ति से रहा नहीं गया तो उसने पूछ ही लिया, व्यक्ति, यह क्या बात हुई कि तुम हर साल शादी करते हो हर साल फेरे लेते हो? बूढ़ा आदमी, बोला बस एक ही शब्द सुनने की खातिर, व्यक्ति, कौन सा शब्द? बुड्ढा , वहीं जब पंडित जी कहते हैं कि लड़के को बुलाओ, कसम से मजा आ जाता है।
दूसरा : मकर संक्रांति को अपनी पत्नी का फोटो पतंग पर चिपकाइए, और अपनी पत्नी को उंगली पर घुमाने का आनंद लीजिए, यह ऑफर सिर्फ मकर सक्रांति पर ही है।
तीसरा : एक मास्टर जी के घर में 7 – 8 मास्टर मेहमान बनकर आए, मास्टरजी की बीवी बोली-चाय कैसे बनाऊं घर में चीनी ही नहीं है? मास्टर जी बोले-तुम सिर्फ चाय बना लाओ बाकी सब मैं संभाल लूंगा, पत्नी चाय बना कर ले आई सभी मेहमानों से मास्टर जी बोले-देखो भाई, जिसके हिस्से में फीकी चाय आएगी कल हम सब, उसके घर मेहमान बन कर खाने के लिए जाएंगे,सभी मास्टरों ने खुशी खुशी चाय पी ली,एक ने तो यहां तक कह डाला कि मेरी चाय तो इतनी मीठी है, कि मुझे डर है कि कहीं मुझे डायबिटीज ना हो जाए, सीखो कुछ।