इन चुलबुले चुटकुलों को पड़ने के बाद आप अपनी हसी नहीं रोक...

इन चुलबुले चुटकुलों को पड़ने के बाद आप अपनी हसी नहीं रोक पाएंगे, हसना चाहते है तो एक बार जरूर पढ़े

420
0

आज के इस भागदौड़ भरी जिन्दगी में हर इंसान बस अपनी जीवनशैली को बेहतर बनाने में लगा हुआ है, और एक-दूसरे से आगे निकलना चाहता है. ऐसे में वो दिन रात मेहनत करता है, जिससे ना तो उसके पास अपने परिवार वालों के लिए समय होता है और ना ही खुद अपने लिए. इंसान जब पूरे दिन काम करके घर लौटता है तो वो यही चाहता है कि उसके कुछ पल खुशी के साथ बित सकें जिसमें वो अपने परिवार के साथ हंस सके लेकिन ऐसा समय इंसान को नहीं मिल पाता. इसी लिए आज हम आपके लिए कुछ ऐसे स्पेशल जोक्स लेकर आए हैं जिसे पढ़ने के बाद हंस हंसकर लोट पोट हो जाएंगे. तो हंसने और हंसाने के लिए हो जाइये तैयार सिर्फ इन मजेदार जोक्स के साथ…

इंग्लिश- He is so talented
हिंदी- बहुत हरामी चीज़ है ये ..

हमारे भारत में लोग गिफ्ट मिलने पर थैंक्स नहीं बोलते है.
बल्कि कहते है- ही ही ही ही इसकी क्या ज़रूरत थी..

बहू अपने ससुर से- बाबू जी इलाइची खत्म हो गयी है, बाजार से लौटने समय ले आना
ससुर- बेटा इलाइची तुम्हारी सास का नाम है और हमारे घर में बड़ों का नाम नहीं लिया जाता
बहू- जी ठीक है मैं आगे से ध्यान रखूँगी..
अगली बार ..
बहू- पिता जी माँ जी खत्म हो गई है , बज़ार से लेते आना
ससुर जी अब तक कंफ्यूज है…

कोई बताएगा फिल्मों में इस्तेमाल होने वाले तकिए कहाँ मिलते हैं..
जिससे लड़ते लड़ते hero heroine उसके परखच्चे उड़ा देते है..
एक हमारे घर का तकिया है,
आज मम्मी ने फेंकर मारा तो मैं दो मिन्ट के लिए मई सर पकड़ कर बैठ गया…

पापु- मुझे दो तरह की लड़कियाँ बिल्कुल पसंद नहीं
दोस्त- कौन कौन
मुझसे बात ना करने वाली
दूसरे लड़कों से बात करने वाली ….
दोस्त- तू कुंवारा ही मरेगा साले

गार्डन में एक लड़का लड़की हाथों में हाथ डाले एक दूसरे के प्यार में डूबे हुए थे तभी एक बुजुर्ग आदमी
वहां आ जाता है
आदमी- बेटा क्या यही हमारी संस्कृति है ?
लड़का- नहीं अंकल ये तो जागृति है आप किसी और पेड़ के नीचे जाकर देखो

बहू- मांजी ये अभी तक घर नहीं आए, कहीं दूसरी लड़की के साथ तो नहीं…
सास- चुप कलमुही जब देखो गंदा ही सोचती है, हे भगवान कहीं किसी गाड़ी के नीचे तो नहीं आ गया मेरा बेटा.

पति रात को बेड पर जाकर धीरे से पत्नी से लिपट गया.
पति- जानू! आज तो फिर से हनीमून मनाने का मन कर रहा है.
पत्नी (चिढ़कर)- रहने दीजिए, आपको बस रात में ही प्यार आता है.
दिन में तो जैसे सांप सूंघ जाता है.
पति के मुंह से सच निकल गया- अरे! क्योंकि रात में अंधेरा होता है न और
दिन में तुम्हारी शक्ल देखकर मूड ही नहीं बनता.
फिर तो चार दिन तक छत पर मच्छरों ने पति के साथ हनीमून मनाया.

बहू- सासू मां, मेरी आपके बेटे से लड़ाई हो गई
सास- कोई बात नहीं बहू, पति- पत्नी में लड़ाई तो होती ही रहती है
बहू- वो सब तो ठीक है मां जी, अब ये बताओ लाश कहां ठिकाने लगानी है.
सास- बेहोश है अब तक

जज (संता से)- तुम्हे क्यों कैद किया गया है?
संता- जल्दी शॉपिंग करने के लिए
जज- अच्छा, लेकिन ये तो कोई अपराध नहीं है. लेकिन तुमने शॉपिंग
जल्दी कैसे कर ली?
संता- दुकान खुलने से पहले.

एक डॉक्टर की परेशानी
जब मरीज़ को खून देना हो तब
उसका कोई रिश्तेदार नज़र नहीं आता.
लेकिन जब ऑपरेशन में कुछ गलती हो जाए तो पता नहीं
200-250 रिश्तेदार कहां से आ जाते हैं?

हमे पूरा उम्मीद है की आपको आज के हमारे ये मस्त और गुदगुदाने वाले चुटकुले बेहद पसंद आये होंगे. इसी तरह मुस्कुराते रहने के लिए बने रहिये हमारे इस वेब पोर्टल के साथ और इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ लाइक और शेयर जरूर कीजिये