बढ़ रहा है से’क्स रोबोट का चलन, रोबोट ज्यादा खुशी देता है या मर्द- महिलाओं ने खुद बताया कि ये रोबोट हमें.

डिजिटल तकनीक से जिंदगी का कोई भी पहलू अनछुआ नहीं रह गया है। प्यार, संवेदना और वासना भी डिजिटल हो गए हैं। ऐसे रोबोट्स हैं, जिनका इनके लिए इस्तेमाल किया जाने लगा है।

आपने फीमेल से’क्स रोबोट के बारे में तो सुना होगा। लेकिन क्या आप जानते हैं एक कंपनी ने खास तौर पर महिलाओं के लिए एक मेल से’क्स रोबोट बनाया।

कंपनी का दावा है कि यह मेल से’क्स रोबोट महिलाओं के एकाकीपन को दूर करेगा और से’क्स का प्लेजर प्रदान करेगा। इस मेल से’क्स रोबोट को रियलबॉटिक्स कंपनी ने बनाया।

कंपनी दावा कर रही है कि इसके जरिए महिलाएं से’क्स का भरपूर आनंद उठा सकती है। रियलबॉटिक्स के फाउंडर और सीईओ Matt McMullen है। उनका कहना है कि इस मेल से’क्स रोबोट का नाम हेनरी है।

McMullen का कहना है कि पुरुषों की तरह महिलाओं को भी अकेलापन काफी खलता है। वो ऐसे में किसी भरोसेमंद साथी की तलाश करती हैं। ऐसे में उनके लिए मेल से’क्स रोबोट से बेहतर भरोसेमंद साथी कौन हो सकता है।

यह मेल से’क्स रोबोट ऐप के जरिए कंट्रोल होता है। इसमें मशीन लर्निंग तकनीक लगी है। यह मेल से’क्स रोबोट ऐप के जरिए कंट्रोल होता है। इसमें मशीन लर्निंग तकनीक लगी है।

इस मेल से’क्स रोबोट की कीमत 7 लाख रुपए है। अगली स्लाइड में पढ़िए कैसे से’क्स डॉल्स के साथ जिंदगी बिता रहे जापानी, ऐसे कर रहे हैं लाइफ को एंजॉय इस मेल से’क्स रोबोट की कीमत 7 लाख रुपए है।

क्या हुआ एक महिला ने इसे यूज किया :-

इस रोबोट को कैरी नाम की महिला ने यूज किया। महिला ने दावा किया रोबोट ने उसे उसके बॉयफ्रेंड से ज्यादा खुशी दी। वो अपने हिसाब से उससे प्यार कर रही थी जबकि वो किसी मर्द के साथ ऐसा नहीं कर पाती।

जापान में से’क्स डॉल्स का कारोबार काफी फल-फूल रहा है। यहां के लोग अपने जीवन के खालीपन को भरने के लिए आर्टिफिशियल टेक्नोलॉजी बेस्ड ‘से’क्स डॉल्स’ और रोबोट्स को खूब तवज्जो दे रहे हैं।

जापान में कई लोग से’क्स डॉल्स के साथ जिंदगी बिता रहे हैं। ये लोग से’क्स डॉल्स को अपने साथ डेट पर ले जाते हैं। उसके साथ बाथटप में नहाते हैं और यहां तक की से’क्स डॉल्स के साथ सोते भी हैं।

जापान में से’क्स डॉल्स का कारोबार काफी फल-फूल रहा है। यहां के लोग अपने जीवन के खालीपन को भरने के लिए आर्टिफिशियल टेक्नोलॉजी बेस्ड ‘से’क्स डॉल्स’ और रोबोट्स को खूब तवज्जो दे रहे हैं।

जापान में कई लोग से’क्स डॉल्स के साथ जिंदगी बिता रहे हैं। ये लोग से’क्स डॉल्स को अपने साथ डेट पर ले जाते हैं। उसके साथ बाथटप में नहाते हैं और यहां तक की से’क्स डॉल्स के साथ सोते भी हैं।

जापान में से’क्स डॉल्स का कारोबार काफी फल-फूल रहा है। यहां के लोग अपने जीवन के खालीपन को भरने के लिए आर्टिफिशियल टेक्नोलॉजी बेस्ड ‘से’क्स डॉल्स’ और रोबोट्स को खूब तवज्जो दे रहे हैं।

जापान में कई लोग से’क्स डॉल्स के साथ जिंदगी बिता रहे हैं। ये लोग से’क्स डॉल्स को अपने साथ डेट पर ले जाते हैं। उसके साथ बाथटप में नहाते हैं और यहां तक की से’क्स डॉल्स के साथ सोते भी हैं।

जापान में हर साल 2,000 से ज्यादा से’क्स डॉल्स बिकती हैं। यह आंकड़ा साल दर साल बढ़ रहा है। यहां आर्टिफिशियल मशीन के साथ लव की स्वीकार्यता बढ़ रही है।

जिंदगी के खालीपन और एकाकीपन को दूर करने के लिए बुजुर्ग से लेकर युवा तक महंगे मशीन बेस्ड डॉल्स को खरीद रहे हैं। इन डॉल्स की सबसे बड़ी खासियत है- इनका हुबहू इंसानों की तरह दिखना और बोलना।

जापान में हर साल 2,000 से ज्यादा से’क्स डॉल्स बिकती हैं। यह आंकड़ा साल दर साल बढ़ रहा है। यहां आर्टिफिशियल मशीन के साथ लव की स्वीकार्यता बढ़ रही है।

जिंदगी के खालीपन और एकाकीपन को दूर करने के लिए बुजुर्ग से लेकर युवा तक महंगे मशीन बेस्ड डॉल्स को खरीद रहे हैं। इन डॉल्स की सबसे बड़ी खासियत है- इनका हुबहू इंसानों की तरह दिखना और बोलना।

सेनजी नाकाजीमा के दो बच्चे हैं। सेनजी टॉक्यो में रहते हैं। से’क्स डॉल्स को पसंद करने और उसके साथ रहने वाले तमाम लोगों में से वो एक हैं। उनकी उम्र 61 साल के करीब है।

नाकाजीमा का कहना है कि पत्नी के साथ उनका रिश्ता इतना जटिल था कि वो कभी खुशी नहीं रह सके। ऐसे में वो एक गुड़ियां खरीद लाये। सेनजी नाकाजीमा के दो बच्चे हैं। सेनजी टॉक्यो में रहते हैं।

से’क्स डॉल्स को पसंद करने और उसके साथ रहने वाले तमाम लोगों में से वो एक हैं। उनकी उम्र 61 साल के करीब है।

नाकाजीमा का कहना है कि पत्नी के साथ उनका रिश्ता इतना जटिल था कि वो कभी खुशी नहीं रह सके। ऐसे में वो एक गुड़ियां खरीद लाये।

नाकाजीमा पिछले कई सालों से से’क्स डॉल्स के साथ रह रहे हैं। ये डॉल अब उनकी जिंदगी का अहम हिस्सा बन गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *