इन 7 कारणों की वजह से बनते है अवैध प्रेम सम्बन्ध, पहला कारण है सबसे बड़ी वजह

एक्स्ट्रा-मैरिटल अफेयर काफी हद तक घर के माहौल तथा व्यक्ति विशेष की मनोवृत्ति पर निर्भर करता है।

आम-तौर पर ज्यादातर एक्स्ट्रा-मैरिटल प्रेम संबंध व्यक्ति की शादीशुदा जिंदगी में तनाव के चलते होते हैं परन्तु इसके अलावा भी कई वजहें होती है

जिनके चलते व्यक्ति अपने लाइफ-पार्टनर को छोड़कर दूसरे स्त्री-पुरुषों में रूचि लेने लगता है। जानिए ऐसी ही कुछ वजहों के बारे में…

7. जीवनसाथी से मोहभंग हो जाने पर

ऐसा कई कारणों से हो सकता है जैसे आपस में एक दूसरे की किसी अन्य से तुलना करना, जीवनसाथी का गुस्सैल या चिड़चिड़ा स्वभाव होना,

मनवांछित अपेक्षाओं का पूरा न होना आदि। इन सभी कारणों के चलते वैवाहिक संबंधों में नीरसता आने लगती है जिसके कारण व्यक्ति अपने जीवनसाथी को छोड़कर किसी अन्य में अपनी कल्पनाओं को ढूंढने लगता है।

6. संबंधों में शारीरिक/ मानसिक संतुष्टि न मिलने पर

अक्सर देखा जाता है कि शादी के बाद पति-पत्नी के बीच शारीरिक संबंधों में कमी आ जाती है। दोनों एक साथ कम समय बिताने लगते हैं,

या फिर दोनों एक दूसरे को पर्याप्त समय नहीं दे पाते, या फिर दोनों में कोई एक किसी अन्य के प्रति आकर्षित हो जाता है।

ऐसे में भी वैवाहिक संबंधों में बिखराव आने लगता है और पति-पत्नी के बीच किसी तीसरे की एंट्री हो जाती है।

समाजविज्ञानियों के अनुसार दुनिया के दो-तिहाई से अधिक एक्स्ट्रा-मेरिटल अफेयर्स के पीछे यही कारण होता है।

5. बच्चे हो जाने के बाद

ज्योहीं पति-पत्नी के रूप में जीवन जी रहे दम्पति माता-पिता बनते हैं, उनका जीवन बदल जाता है।

उनकी आपसी प्राथमिकताएं बदल जाती है, दोनों एक-दूसरे को समय कम देने लगते हैं। पत्नी अपना सारा ध्यान बच्चों पर देने लगती है

जिससे पति का अपने वैवाहिक संबंध से मोहभंग हो जाता है और वह शारीरिक, मानसिक तथा भावनात्मक संतुष्टि के लिए घर के बाहर किसी अन्य को ढूंढने लगता है।

4. जीवनसाथी के बीमार हो जाने पर

यदि पति-पत्नी दोनों में कोई एक गंभीर रूप से बीमार हो अथवा अपने वैवाहिक संबंधों का निर्वाह करने में अक्षम हो तो दोनों में जो भी सक्षम होता है उसी पर पूरी गृहस्थी का भार आ जाता है।

ऐसे में दोनों के बीच आपसी सामंजस्य कम होने लगता है, कई बार दोनों एक दूसरे से अपनी भावनाएं शेयर करने में भी झिझकने लगते हैं और वैवाहिक संबंध टूट जाते हैं।

3. पति-पत्नी के एक साथ नहीं रहने पर

वर्तमान समय में कुछ पति-पत्नियों को निजी व्यस्तताओं तथा व्यावसायिक जिम्मेदारियों के चलते एक दूसरे से दूर रहना पड़ता है।

कई बार पति एक शहर में होता है और पत्नी दूसरे शहर में। दोनों कई हफ्तों या महीनों तक एक दूसरे से आमने-सामने नहीं मिल पाते

जिसके चलते उन्हें एक दूसरे का शारीरिक सामीप्य नहीं मिल पाता। ऐसे में जब कोई पति-पत्नी में किसी एक या दोनों का रूझान किसी तीसरे की तरफ हो सकता है।

2. बहुत कम उम्र में शादी हो जाने की वजह से

कुछ लोगों की शादी बहुत कम उम्र में हो जाती है। ऐसे लोग जब जिन्दगी के अगले पड़ाव पर पहुंचते हैं तो उन्हें अपनी जिंदगी में काफी कुछ पीछे छूटने का अहसास होने लगता है।

इस कमी को पूरा करने के लिए वे एक्स्ट्रा-मैरिटल अफेयर की ओर कदम बढ़ाने लगते हैं, जहां उनकी जिंदगी एक नया मोड़ ले लेती है।

  1. पति-पत्नी दोनों में किसी एक का फ्लर्टी नेचर का होना

एक ओर जहां वैवाहिक संबंध को कामयाब बनाए रखने के लिए पति-पत्नी के बीच आपसी सामंजस्य का होना जरूरी है वहीं दोनों का एक दूसरे के प्रति निष्ठावान होना भी जरूरी है।

परन्तु कुछ लोग स्वभाव से फ्लर्टी होने के कारण ऐसा नहीं कर पाते और शादी के बाहर अन्य स्त्री के साथ संबंध बनाने के लिए आतुर रहते हैं। ऐसे लोगों के कारण भी वैवाहिक संबंध टूट सकते हैं।

Source