अब घर बैठे बस 5 मिनट में इस तरीके को अपनाकर जान...

अब घर बैठे बस 5 मिनट में इस तरीके को अपनाकर जान सकते हैं कितने वर्षो तक जीवित रहेंगे आप

261
0

मृत्यु जीवन का खेल संसार में सदैव चलता रहता है। ये निरंतर प्रक्रिया है जो न कभी रुकती है न कभी आरम्भ होती है। यहां जीवन चाहिए हो तो मृत्यु के बिना नहीं हो सकेगा। एक अर्थ में अंधेरा प्रकाश का विरोधी भी है और एक अर्थ में सहयोगी भी। ये दोनों बातें ख्याल में रखना। विरोधी इस अर्थ में कि अंधेरे से ठीक उलटा है। सहयोगी इस अर्थ में कि बिना अंधेरे के प्रकाश हो ही न सकेगा। अंधेरा पृष्ठभूमि भी है प्रकाश की और ऐसा ही जीवन-मृत्यु का संबंध है। मृत्यु के बिना जीवन की कोई संभावना नहीं। मृत्यु की भूमि में ही जीवन के फूल खिलते हैं और मृत्यु में ही टूटते हैं, गिरते हैं, बिखर जाते हैं।जैसे पृथ्वी से उगता है पौधा, खिलता है, बड़ा होता है और एक दिन वहीं गिरकर पृथ्वी में ही कब्र बन जाती है।

इस धरती पर जन्म लेने वाला हर व्यक्ति ये बात अच्छे से जनता है की जिसने जन्म लिया है उसकी मृत्यु निश्चित है लेकिन फिर भी हर आदमी यही कामना रखता है की वो लम्बी जिंदगी जिए और जीवन का पूरा आनंद उठा सके लेकिन हर किसी के भाग्य में ये नसीब नहीं होता है इसके साथ ही धरती के प्रत्येक मनुष्य के मन में ये  जानने के  लिए उत्सुक रहते है की उनकी मृत्यु कब और कैसे होगी |

वही हमारे शास्त्रों में ऐसे तरीके बताये गये है जिनसे हम जान सकते है की हमारी मृत्यु का समय क्या है|हो सकता है की आप इन बातों पर यकीन ना करें लेकिन ये बात बिल्कुल सही है की कुछ तरीको को अपनाकर आप भी यह जान सकते है की आप कितने सालों तक जियेंगे और आपकी आयु कितनी है |हमारे वेद और शास्‍त्रों में इन सवालों के जवाब  मौजूद हैं कि कौन कितने दिन जिएगा और इसके साथ ही इसके लिए कुछ तरीके भी बताए गए हैं जिन्हें अपनाकर आप इन सवालों में उलझने के बजाय जवाब खुद आसानी से जान सकेंगे |

रेखाओं का ज्ञान देने वाले समुद्र शास्त्र के अनुसार इस जातक की माथे की चार लकीरें दोनों कनपटी को जोड़ती हों मतलब एक कनपटी से दूसरी कनपटी तक उस जातक की उम्र ज्यादा होती है प्राचीन काल में इस तरह की मस्तिष्क रेखा वालों को शतायु कहा जाता था शतायु का मतलब होता है सौ साल।

मस्तिष्क माथे की रेखा अगर स्पष्ट दिखाई दे रही हो तो एक रेखा 25 वर्ष की आयु दर्शाती है इसका मतलब है माथे पर जितनी रेखाएं स्पष्ट दिखाई दे उतना ही शुभ है।

ऐसे ही विष्य पुराण के अनुसार अपनी उँगलियों से अपने शरीर को नापने से उम्र का अनुमान लगाया जा सकता है अगर जातक अपनी उँगलियों के अनुसार 108 ऊँगली का होता है 108 ऊँगली मतलब चार हाथ आता है तो इसका अर्थ है की उम्र के मामले में वो जातक बेहद भाग्यशाली है और ऐसे लोग दीर्घायु वालों की श्रेणी में आते है |

इसके अलावा जिस जातक का शरीर उसकी 100 ऊँगली बराबर होता है वह माध्यम आयु वाला होता है। और नब्बे ऊँगली और इससे कम ऊँगली वाला व्यक्ति अल्पायु होता है मतलब औसत जीवन जीता है। इन दिए गए प्रयोगो से आप अपनी उम्र का अनुमान लगा सकते हैं।